जब बाहर से आते हैं अतिथि तो ऐसी तैयारी करता है अपना देश

0

शिखा कौशिक/

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी इवांका ट्रम्प भारत आने वाली हैं. इवांका हैदराबाद में होने वाले तीन-दिवसीय बिज़नस समिट में भाग लेंगी जो अगले सप्ताह में शुरू होने वाला है.

इवांका का आना भारत के लिए अहम् है. आपको याद होगा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जब अमेरिका गए थे तो उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति की बेटी को भारत आने का न्योता दिया था.

अब जब इवांका भारत पहुँचने वाली हैं तो देश जोर-शोर से उनके स्वागत की तैयारी कर रहा है. इसी तैयारी के बहाने हम समझ पायेंगे कि किसी भी बड़ी विदेशी हस्ती के भारत आने पर, देश और शहर को अच्छा दिखाने के लिए क्या-क्या किया जाता है.

रंग रोगन किये जाते हैं, यह तो जग जाहिर है. कुछ और भी किया जाता है कि जिससे हमारी गरीबी छिप सके. इसके लिए सबसे अहम् कदम है कि भीख माँगते लोगों को सड़कों से उठाकर कहीं छिपा दिया जाता है कि बाहरी लोगों को पता ना चले कि इस देश में भीखमंगे होते हैं.

अहम् कदम है कि भीख माँगते लोगों को सड़कों से उठाकर कहीं छिपा दिया जाता है कि बाहरी लोगों को पता ना चले कि इस देश में भीखमंगे होते हैं

हैदराबाद में आगामी बिज़नस समिट के लिए करीब एक हज़ार भिखारियों को सड़क से हटा दिया गया है. पुलिस कहती है कि उनको एक आश्रम में रखा गया है.

इन हज़ार भीख मांगने वालों में से पुलिस के अनुसार 133 के करीब महिलायें भी हैं जिन्हें पुलिस ने चेरलापाली जेल के अनंदा आश्रम में रखा है. महिलाओं को जेल के आश्रम में रखा गया है तो पुरुषों को कहाँ रखा गया होगा यह आप सोच सकते हैं.

शहर से भीख मांगने वालों को हटाने के साथ रेहड़ी वालों को भी हटा दिया गया है. इनके बारे में इतना कहा जा सकता है कि ये लोग अपने घर चले गए होंगे और उनका पंद्रह-बीस दिन का रोजगार इवांका ट्रम्प के नाम पर बर्बाद हो गया होगा.

अमेरिका में प्रथम महिला यानी डोनाल्ड ट्रम्प की पत्नी से भी ताकतवर महिला माने जाने वाली इवांका के स्वागत के लिए शहर से कुत्तों को भी हटाया जा रहा है.

डेक्कन क्रोनिकल अखबार ने एक खबर प्रकाशित की है जिसमें कहा गया है कि हैदराबाद के कुछ कॉलोनियों में से कुत्ते गायब हो गए हैं. बहुत छिटपुट कुत्ते दिख रहे हैं. इस अखबार के अनुसार ये बंजारा और जुबिली हिल्स का क्षेत्र है. वहाँ के रहने वाले लोगों ने इस अखबार को बताया है कि इसके पीछे ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम का हाथ है. आरोप यह है कि नगर निगम इवांका ट्रम्प के स्वागत के लिए इन कुत्तों को जहर देकर मार रहा है.

शहर के इस सफाई के दौरान भीख मांगती मिली दो अमीर महिलायें

समाचार के मुताबिक जब अधिकारी शहर से भीखमंगो को हटा रहे थे तो उनमें उनको दो अमीर महिलायें भी मिलीं. इनका पता तब चला जब वो उनको पकड़ने गए अधिकारियों से फर्राटा अंग्रेजी में बहस करने लगीं.

उनमें से एक हैं फर्जोना जिनके पास एमबीए की डिग्री मौजूद है और उन्होंने लन्दन में बतौर अकाउंटेंट काम भी किया है. उनका बेटा अमेरिका में कार्यरत है. फर्जोना का हैदराबाद के एक पॉश इलाके में अपना मकान है. उन्होंने एक तांत्रिक के कहने पर भीख माँगना शुरू कर दिया था. जब उनके पुत्र से संपर्क किया गया तो वह उस वक्त वे हैदराबाद में ही थे और अपनी माँ को तलाश रहे थे.

एक दूसरी महिला हैं राबिया बसेरा जो हैदराबाद के डिफेंस कॉलोनी की रहने वाली हैं. उनके अनुसार वो अमेरिका की ग्रीन कार्ड होल्डर हैं. उनके भाई लोगों ने उनकी प्रॉपर्टी हड़प ली है. इनको भी उनके रिश्तेदारों के पास भेज दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here