Tuesday, October 15, 2019
Home Tags Poverty

Tag: Poverty

परिवार (राज्‍य) और निजी संपत्ति 

राकेश मिश्र हिंदी के उन कुछ चुनिन्दा कथाकारों में से हैं जो लागातार लिख रहे हैं और अच्छा लिख रहे हैं। इनकी कहानियों का...

क्या राजस्थान देश का पहला राज्य बनेगा जहां लोगों को स्वास्थ्य...

शिखा कौशिक/ अगस्त 2017 की गोरखपुर की वो दर्दनाक घटना तो याद ही होगी जब पचास के करीब बच्चे ऑक्सीजन की कमी से मर गए...

राजनीतिक विमर्श से गायब मज़दूर

आफाक हैदर / चुनावी मौसम का रंग पूरी तरह से चढ़ गया है। पहले चरण के मतदान समाप्त हो चुके हैं। ये चुनावी समर वायदों और नारों से...

मूर्ति और बुलेट ट्रेन बनाने से सरकारी खजाने पर बोझ नहीं...

शिखा कौशिक/ देश के इस चुनावी मौसम में जब राहुल गाँधी ने ब्रह्मास्त्र छोड़ दिया है. इसके अनुसार अगर कांग्रेस चुनाव जीतकर आती है तो...

मजदूरी तय करने के लिए समिति ने कैलोरी की मात्रा कम...

सौतुक डेस्क/ श्रम और रोजगार मंत्रालय (एमओएलई) द्वारा गठित एक विशेषज्ञ समिति ने सिफारिश की है कि न्यूनतम मजदूरी तय करने के लिए कैलोरी सेवन...

संसद में राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना पर गोल गोल...

उमंग कुमार/ सरकार की चतुराई को समझने का इससे अच्छा उदाहरण नहीं मिलेगा. सोलवहीं लोकसभा भंग होने वाली है और सरकार अपने कार्य का लेखा...

देश में सबकुछ अच्छा चल रहा है, यह बताने का सरकार...

शिखा कौशिक/ नरेन्द्र मोदी सरकार चाहती है कि आप मानें कि पिछले पांच साल में सरकार ने बहुत अच्छा काम किया है. इसके लिए सरकार...

मोदी सरकार में ड्रॉपआउट बच्चों की संख्या तीन गुना बढ़ी

शिखा कौशिक/ विकास के नाम पर लाई गई सरकार के पिछले साढ़े चार सालों के कार्यकाल में देश ने सिर्फ गाय-गोबर जैसे मुद्दों पर ही...

एचआईवी से जंग: गरीबी और संक्रमण में सीधा रिश्ता

अनिमेष नाथ/ भारत एक ऐसा देश है जिसने न केवल खुद के एचआईवी की समस्या से लोहा लिया है बल्कि अफ़्रीकी देशों में संक्रमण को...

क्या है किसानों की सबसे बड़ी मांग जिसे सरकार पूरा नहीं...

शिखा कौशिक/ पिछले कुछ सालों से सरकार और किसानों में ठनी हुई है. आखिर मुद्दा क्या है? क्या चाहते हैं किसान और सरकार क्यों नहीं...

सांप, गरीबी और सरकार की भूमिका

उमंग कुमार/ कोफ़ी अन्नान सयुंक्त राष्ट्र के महासचिव रहे इसलिए लगभग सारी दुनिया उनसे वाकिफ है. इसके अतिरिक्त अन्नान के कुछ ऐसे योगदान हैं जो...

उम्र बढ़ने के साथ अपने ही घर में गरीब होती जाती...

उमंग कुमार/ नब्बे के दशक में प्रख्यात अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने ‘गायब महिलाएं’ (Missing Women) जैसा कुछ शब्द दुनिया के सामने रखा था. उनका कहना...

अजब मध्य प्रदेश में आदिवासियों से कहा गया घर के सामने...

शिखा कौशिक/ मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में गरीब परिवार जिन्हें सरकार से मदद लेनी है, को अपने घर के सामने लिखना होगा कि 'मेरा...

महाराष्ट्र सरकार गरीबों को मिलने वाले राशन में करेगी कटौती

सौतुक डेस्क/केंद्र सरकार के खाद्य सुरक्षा कानून अन्त्योदय योजना के तहत सभी गरीब परिवारों जिसमें आदिवासी, विधवा इत्यादि सभी शामिल हैं, को हर महीने...

शुभ समाचार

विज्ञानं