तनुश्री दत्ता की लड़ाई में बड़े नाम और हिंदी पट्टी दोनों मौन

0
फोटो: साभार 'द इंडियन एक्सप्रेस'

शिखा कौशिक/

दस साल पहले तक बॉलीवुड में सक्रिय अभिनेत्री तनुश्री दत्ता एक लड़ाई लड़ रही हैं और इधर हिंदी पट्टी में इस मामले पर गज़ब की चुप्पी छाई हुई है. पूर्व मिस इंडिया और अदाकारा दस साल पहले बॉलीवुड के परदे से अचानक गायब हो गई थीं. अब, जब वापसी हुई है तो उन्होंने कुछ ऐसे राज खोले हैं जिसने सबको असहज कर रखा है. जैसा कि अमूमन होता है ऐसे मामलों में महिला अलग-थलग कर दी जाती है, तनुश्री पर लोगों ने आरोप लगाया कि वो चर्चा में आने के लिए यह सब कर रही हैं. अब तो इनके खिलाफ एक राजनितिक पार्टी, महाराष्ट्र का एक मंत्री भी मैदान में है. वहीँ, सामाजिक विषयों पर फ़िल्में बना अपनी तिजोरी भरने वाले अभिनेता इस मामले पर चुप्पी साध गए हैं. इनमें अमिताभ बच्चन एक जरुरी नाम हैं.

चॉकलेट और आशिक बनाया आपने जैसी फिल्मों में काम कर दर्शकों को अपना दीवाना बनाने वाली दत्ता ने बताया कि क्यों अचानक से उन्होंने बनता हुआ अपना करियर छोड़ दिया. उनके अनुसार ‘हॉर्न ओके प्लीज’ फिल्म की शूटिंग के दरम्यान उन्हें प्रताड़ित किया गया और उन्होंने बॉलीवुड को अलविदा कह दिया. उन्होंने 2008 में भी लोगों को अपनी कहानी बताई थी पर कुछ हासिल नहीं हुआ.

वजह, सामने नाना पाटेकर का होना. तनुश्री ने बॉलीवुड के गिने-चुने अभिनेता में शामिल पाटेकर पर यह आरोप लगाया कि वे भी इस प्रताड़ना में शामिल थे. इस आरोप के अनुसार, नाना पाटेकर ने इस नायिका से कहा था कि वो उनके साथ एक अन्तरंग दृश्य वाला डांस करें.

इस आरोप के अनुसार, नाना पाटेकर ने इस नायिका से कहा था कि वो उनके साथ एक अन्तरंग दृश्य वाला डांस करें

ऐसा ही कुछ आरोप इस नायिका ने विवेक अग्निहोत्री पर लगाया. अग्निहोत्री वही जो आजकल ‘अर्बन नक्सल’ शब्द की वजह से चर्चा में हैं. इन्होंने यह शब्द बाज़ार में उतारा जिसको सत्ताधारी राजनितिक दल बखूबी अपने फायदे के लिए इस्तेमाल कर रहा है.

बहरहाल, तनुश्री ने आरोप लगाया कि वर्ष 2005 में चॉकलेट फिल्म की शूटिंग के दरम्यान अग्निहोत्री ने कहा था कि अपने कपड़े उतारो और इरफ़ान खान के सामने नाचो. लेकिन इरफ़ान खान और सुनील शेट्टी दोनों ने तनुश्री का बचाव किया था.

अभी चारों तरफ से घिरी है यह बहादुर नायिका

दत्ता के खिलाफ अभी महराष्ट्र नवनिर्माण सेना है और इसके नेता ने खुलेआम धमकी दी है कि अगर बिग बॉस में इसने भाग लिया तो सेट पर तोड़-फोड़ की जाएगी. आलम यह है कि मुम्बई पुलिस को इस नायिका को सुरक्षा प्रदान करनी पड़ी है. मामले में, नाना पाटेकर और विवेक अग्निहोत्री ने आरोपों का खंडन करते हुए इस अदाकारा को लीगल नोटिस भेज दिया है.

नोटिस मिलने के बाद तनुश्री ने कहा, “ये उत्पीड़न के खिलाफ बोलने का नतीजा है. उन्होंने कहा कि यह भारत में उत्पीड़न और अन्याय के खिलाफ बोलने की कीमत है.”

उन्होंने कहा, “नाना और विवेक अग्निहोत्रि की टीम सोशल मीडिया प्लेटफार्मों और अन्य सार्वजनिक जगहों पर झूठ और गलतफहमी फैला कर मुझे बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. उनके समर्थक आगे आ रहे हैं और प्रेस कॉन्फ्रेंस में मेरे खिलाफ आवाज उठा रहे हैं.”

तनुश्री ने बताया, “आज जब मैं घर पर थी और मेरे घर के बाहर तैनात पुलिसकर्मी लंच ब्रेक पर थे, तो दो अज्ञात व्यक्तियों ने मेरे घर में घुसने की कोशिश की. लेकिन गार्ड ने उन्हें रोक दिया.”

दत्ता ने दस साल पहले के अपने अनुभव मीडिया को बताते हुए यह उम्मीद जताई थी कि हो सकता है यह बॉलीवुड का #MeToo movement हो. यह मूवमेंट हॉलीवुड में शुरू हुआ जिसमें एक महिला ने अपने संघर्ष की कहानी बताई. फिर तो कई महिलाएं अपनी प्रताड़ना की कहानियां लेकर आगे आयीं जिनमें कई बड़े नाम शामिल थे. लेकिन दुखद यह कि #MeToo movement तो दूर की बात, यह एक साधारण आन्दोलन भी नहीं बन पाया.

दत्ता ने दस साल पहले के अपने अनुभव मीडिया को बताते हुए यह उम्मीद जताई कि हो सकता है यह बॉलीवुड का #MeToo movement हो

दत्ता बॉलीवुड की कोई पहली अदाकारा नहीं हैं जिन्होंने अपने साथी कलाकार पर सीमा से बाहर जाने का आरोप लगाया है. पहले भी ऐसे आरोप लगते रहे हैं और आगे भी लगते रहेंगे. लेकिन दत्ता की कहानी के बाद बड़े कलाकारों ने जो अपना रंग दिखाया है उससे पता चलता है कि बॉलीवुड में सड़ांध कितनी गहरी है.

आमिर खान और सलमान खान जैसे अभिनेता ने कुछ भी कहने से मना कर दिया. आमिर ने जहां समस्या के तह में जाने का आड़ लिया वहीँ सलमान ने तो उस पत्रकार का ही मज़ाक बना दिया जिसने उनसे इसपर सवाल पूछा था. वहीँ अमिताभ जो हाल ही में पिंक जैसी फिल्मों में ऐसी पीड़ित महिलाओं के लिए लड़ते हुए देखे गए ने कह दिया कि वे ना तो नाना पाटेकर हैं और ना ही तनुश्री दत्ता. इस बुजुर्ग अभिनेता ने हाल ही में अपने पोती को एक संवेदनशील पत्र लिखा था.

ऐसा इसलिए भी हो रहा है क्योंकि इस मुद्दे में आरोपी नाना पाटेकर हैं जो बॉलीवुड में एक मंजे हुए अदाकार के तौर पर जाने जाते हैं और साथ ही सामाजिक कार्यकर्त्ता भी हैं. महाराष्ट्र के राजनितिक दलों में इनकी अच्छी-खासी पकड़ है. तनुश्री दत्ता ने अपने आरोप में अन्य जिनलोगों के नाम लिए थे वे लोग भी बॉलीवुड की बड़ी हस्ती हैं.

यह तब है जब मौके पर मौजूद एक महिला पत्रकार और एक सहायक निर्देशक ने इसकी पुष्टि की है. इसका तात्पर्य है कि तनुश्री दत्ता के आरोप में कुछ तो सच्चाई है.

लेकिन थोड़ी सी राहत की बात है कुछ लोग तनुश्री दत्ता के समर्थन में आये हैं भले ही वे लोग अमिताभ, सलमान और आमिर खान जैसे हाई प्रोफाइल ना हो. इनमें ऋचा चड्ढा, सोनम कपूर, प्रियंका चोपड़ा, रेणुका सहाने, फरीदा पिंटो, पूजा भट्ट, वरुण धवन, अनुराग कश्यप और फरहान अख्तर जैसे नाम शामिल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here