नए शतकवीर: विराट के शतक जीत की गारंटी

0
शिखा कौशिक/
विराट कोहली ने रविवार को श्रीलंका के साथ हो रहे एक दिवसीय मैच में अपना तीसवां शतक जड़ते हुए टीम इंडिया को जीत दिला दी. इसके साथ ही विराट एक दिवसीय मैच में सबसे अधिक शतक बनाने वाले खिलाडियों में रिकी पोंटिंग के साथ दूसरे नंबर पर पहुँच गए. रिकी पोंटिंग और विराट कोहली दोनों के हिस्से में 30 शतक हैं. अपना पहला शतक विराट ने ईडन गार्डन में 2009 में बनाया था. आठ साल के अन्दर उन्होंने 30 शतक का आंकड़ा छू लिया है.
अब विराट से आगे महज क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ही हैं जिन्होंने एक दिवसीय मैचों में कुल 49 शतक बनाए हैं.  इससे पहले उन्होंने इसी श्रंखला के चौथे वनडे में 29वां शतक जड़कर श्रीलंका के सनत जयसूर्या के 28 शतक के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया था.
वर्ष 2017 में ही वनडे टीम की कमान सँभालने वाले कप्तान कोहली ने श्री लंका के खिलाफ पांचवें वनडे में 116 गेंद में नाबाद 110 रन ठोंककर सीरीज में लगातार दूसरा शतक बनाया. उन्होंने अपनी पारी में नौ चौके जड़े.
विराट के शतकों के साथ एक और रिकॉर्ड है जिसकी चर्चा होनी चाहिए. विराट एक ऐसे बल्लेबाज हैं जो शतक बनाते हैं तो उनकी टीम का जीतना लगभग तय हो जाता है. उनके तीस शतकों में से 26 में टीम इंडिया ने जीत दर्ज किया है. महज चार मैचों में ही टीम की हार हुई है.
 
इस तरह यह कहा जा सकता है कि विराट के शतक टीम इंडिया के लिए जीत की गारंटी है. खासकर भारत में खेले गए मैचों में जब भी विराट ने शतक ठोंका है उनकी टीम को जीत मिली है. भारत में विराट के कुल 12 शतक हैं. इन सारे मैचों में टीम इंडिया ने भी जीत दर्ज की थी.
कोहली की शतकीय पारी में भारत को केवल चार बार हार का सामना करना पड़ा है, जिसमे से दो मुकाबले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसी के सरजमी पर खेले गए थे.
बाकी दो मैच इंग्लैण्ड और न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेले गए. इंग्लैण्ड के खिलाफ खेलते हुए वर्ष 2011 में उन्होंने 107 रन बनाए पर डकवर्थ लुईस के नियम के अनुसार मैच में भारत को हार के साथ समझौता करना पड़ा.
न्यूज़ीलैंड के खिलाफ भी भारत को एक मैच में हार का सामना करना पड़ा जब विराट ने एक शतक बनाया था. उसके अलावा उस मैच में सिर्फ महेंद्र सिंह धोनी ने 40 रन बनाए थे. बाकी के खिलाड़ी सस्ते में आउट हो गए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here