एक्शन फिल्मों में सकारात्मक बदलाव आया है : रणदीप हुड्डा

0
रणदीप हूडा

मुंबई:  सुपर फाइट लीग टीम हरियाणा सुल्तान्स के सह-मालिक अभिनेता रणदीप हुड्डा का मानना है कि कलाकार मिश्रित मार्शल आर्ट (एमएमए) को बड़े पैमाने पर इस्तेमाल में ला रहे हैं। इससे देश में फिल्म की एक्शन विधा बेहतर हो रही है।

चाहे वह ‘कमांडो’ श्रृंखला की फिल्में हों या ‘मुन्ना माइकल’, ‘नाम शबाना’ या ‘बागी’ – बॉलीवुड एक्शन फिल्में उच्च मानक स्थापित कर रही हैं। रणदीप ने कहा कि मिश्रित मार्शल आर्ट के इस्तेमाल ने इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

रणदीप ने आईएएनएस से कहा, “यह देखना अच्छा लगता है कि कैसे इन दिनों कलाकारों के फिटनेस का स्तर बढ़ा है और यह उन एक्शन दृश्यों में नजर आ रहा है, जहां मिश्रित मार्शल आर्ट का इस्तेमाल हुआ है। मैं उम्मीद करता हूं कि यह और आगे जाएगा।”

रणदीप खुद भी अपनी शारीरिक फिटनेस, पोलो और घुड़सवारी में उपलब्धियां हासिल करने के लिए जाने जाते हैं।

वह एमटीवी सुपर फाइट लीग सीजन-2 जैसे प्लेटफॉर्म से खुश हैं, जो मिश्रित मार्शल आर्ट को बढ़ावा देता है।

अभिनेता ने बताया कि उन्होंने फिल्म ‘दो लफ्जों की कहानी’ की तैयारी के दौरान मिश्रित मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण लिया था। फिल्म में उन्होंने मिश्रित मार्शल आर्ट फाइटर का किरदार निभाया था।

–आईएएनएस

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here