आईएफएफआई 2017: रोबिन केम्पिलो निर्देशित ‘120 बिट्स पर मिनट’ सर्वश्रेष्ठ फिल्म

0
केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति इरानी, कनाडा के फिल्मकार एटम इगोयान को लाइफटाईम अचीवमेंट पुरस्कार प्रदान करती हुई

सौतुक डेस्क/

गोवा में चल रहा भारत का अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल आज संपन्न हुआ जिसमें फ्रांस की फिल्म ‘120 बिट्स पर मिनट’ को इस साल का सर्वश्रेठ फिल्म चुना गया. इसके साथ ही इसी फिल्म के अभिनेता नहुएल पेरेज बिक्सायार्ट को सर्वश्रेठ अभिनेता का पुरस्कार दिया गया.

नौ दिनों तक चले इस फिल्म फेस्टिवल में दुनिया भर से आई फिल्में प्रदर्शित हुईं. इनमें रोबिन केम्पिलो द्वारा निर्देशित फ्रांस की फिल्म ‘120बिट्स पर मिनट’ ने आईएफएफआई 2017 में सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार हासिल किया. इस पुरस्कार में स्वर्ण मयूर ट्रॉफीप्रमाण पत्र एवं 40 लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया. यह राशि निर्माता और निर्देशक में बराबर विभाजित होगा.  नहुएल पेरेज बिक्सायार्ट को ‘120 बिट्स पर मिनट’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार मिला  तथा पार्वती थिरुवथू कोट्टूवता को मलयाली फिल्म टेक ऑफ’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इन दोनों को रजत मयूर ट्रॉफी एवं 10-10 लाख रुपये का नकद पुरस्कार प्रदान किया गया. सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार फिल्म एंजेल्स वियर व्हाइट’ के लिए विवियन क्यू को प्रदान किया गयाजिन्हें स्वर्ण मयूर ट्रॉफी एवं 15 लाख रुपये के नकद पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

किसे क्या मिला?

  • फिल्म ‘120 बिट्स पर मिनट’ को इस साल का सर्वश्रेठ फिल्म
  • नहुएल पेरेज बिक्सायार्ट को ‘120 बिट्स पर मिनट’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता
  • पार्वती थिरुवथू कोट्टूवता को मलयाली फिल्म ‘टेक ऑफ’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री 
  • महेश नारायणन को उनकी मलयाली फिल्म ‘टेक ऑफ’ के लिए विशेष ज्यूरी पुरस्कार 
  • कीरो रोशो को उनकी स्पैनिश फिल्म ‘डार्क स्कल’ के लिए ‘किसी निर्देशक की पहली सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म’ का पुरस्कार
  • कनाडा के फिल्मकार एटम इगोयान को लाइफटाईम अचीवमेंट पुरस्कार
  • अमिताभ बच्चन को भारतीय सिनेमा में उनके योगदान के लिए वर्ष के सर्वश्रेष्ठ भारतीय फिल्म व्यक्तित्व का पुरस्कार

‘120 बिट्स पर मिनट’ 1990 के दशक में पेरिस में कार्यकर्ताओं के एक समूह की कहानी है, जो एचआईवी/एड्स मरीजों के पक्ष में संघर्ष करने के दौरान सरकारी एजेंसियों एवं फॉर्मास्यूटिकल क्षेत्र की बड़ी कंपनियों का मुकाबला करते हैं.

विशेष ज्यूरी पुरस्कार, जिसमें रजत मयूर पुरस्कार एवं 15 लाख  रुपये का नकद पुरस्कार शामिल है, महेश नारायणन को उनकी मलयाली फिल्म‘टेक ऑफ’ के लिए प्रदान किया गया. कीरो रोशो को उनकी स्पैनिश फिल्म ‘डार्क स्कल’ के लिए ‘किसी निर्देशक की पहली सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म’ का पुरस्कार मिला.

बॉलीवुड के अभिनेता अमिताभ बच्चन को भारतीय सिनेमा में उनके योगदान के लिए वर्ष के ‘सर्वश्रेष्ठ भारतीय फिल्म व्यक्तित्व’ का पुरस्कार प्रदान किया गया. कनाडा के विख्यात फिल्मकार एटम इगोयान को भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह (आईएफएफआई) 2017 के समापन समारोह के दौरान लाइफटाईम अचीवमेंट पुरस्कार प्रदान किया गया.  लाइफटाईम अचीवमेंट पुरस्कार में 10 लाख रुपये का नकद पुरस्कार शामिल है जो सिनेमा में असाधारण योगदान के लिए किसी उत्कृष्ट फिल्मकार को प्रदान किया जाता है.

मराठी फिल्म ‘क्षितिज-ए होराईजन’ को आईसीएफटी-यूनेस्को गांधी मेडल मिला, जिसका निर्देशन फिल्मकार मनौज कदम्ह ने किया है.

मराठी फिल्म ‘क्षितिज-ए होराईजन’ को आईसीएफटी-यूनेस्को गांधी मेडल मिला, जिसका निर्देशन फिल्मकार मनौज कदम्ह ने किया है. इस पुरस्कार का गठन अंतर्राष्ट्रीय फिल्म एवं टेलीविजन परिषद्, पेरिस एवं यूनेस्को द्वारा किया गया है तथा यह वैसी फिल्म को दिया जाता है जो शांति एवं सद्भाव के गांधीवादी मूल्यों को प्रदर्शित करता है.

आईएफएफआई 2017 के समापन समारोह की एंकरिंग करण जौहर, सोनाली बेंद्रे एवं ज़ायरा वसीम द्वारा की गई तथा समापन समारोह में सलमान खान, अक्षय कुमार, कैटरीना कैफ, भूमि पेडनेकर, सुशांत सिंह राजपूत, सिद्धार्थ मल्होत्रा एवं हुमा कुरैशी जैसी विख्यात भारतीय फिल्म शख्सियतों ने भाग लिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here